16 मार्च से पहले क्रेडिट-डेबिट कार्ड पर कर लें ऑनलाइन या कॉन्टैक्टलेस ट्रांजैक्शन, वर्ना बंद हो जाएगी ये सर्विस


अगर आपके पास डेबिट और क्रेडिट है और 16 मार्च तक अगर आप ऑनलाइन या कॉन्टैक्टलेस ट्रांजैक्शन नहीं करते हैं तो ये सेवाएं बंद हो जाएंगी। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने हाल में एक नोटिफिकेशन जारी कर कहा है कि जिन कार्डधारकों ने अबतक इन दोनों फीचर का इस्तेमाल नहीं किया है उनके कार्ड पर ये सेवाएं बंद कर दी जाएंगी।
आरबीआई ने यह नोटिफिकेशन 15 जनवरी को जारी किया था। इसका मतलब ऐसे कार्डधारक 16 मार्च के बाद से अपने कार्ड से ऑनलाइन या कॉन्टैक्टलेस ट्रांजैक्शन नहीं कर सकेंगे।
आरबीआई ने नोटिफिकेशन में फर्जीवाड़े से बचने के लिए कई अन्य नियम भी जारी किए हैं। इसके तहत बैंकों को निर्देश दिए गए हैं कि वे डेबिट और क्रेडिट कार्ड को इश्यू या फिर रीइश्यू करते वक्त पीओएस और पीओएस पर डॉमेस्टिक कार्ड्स से ट्रांजैक्शंस को ही मंजूरी दें।
इसके साथ ही शीर्ष बैंक ने यह भी कहा है कि बैंक ग्राहकों को कार्ड्स को एनेबल और डिसेबल करने की सुविधा मुहैया करवाए। इसका मतलब बैंक ग्राहक अपने डेबिट व क्रेडिट कार्ड पर ऑनलाइन, फिजिकल, कांटैक्ट लेस के ट्रांजेक्शन को अपनी मर्जी से ऑन-ऑफ कर सकते हैं।
मालूम हो कि बिना पिन डाले क्रेडिट या डेबिट कार्ड से शॉपिंग करने की सुविधा कॉन्टैक्टलेस ट्रांजैक्शन है। इस तरह की कार्ड स्वैपिंग और ट्रांजैक्शन को कॉन्टैक्टलेस पेमेंट कहा जाता है। पेमेंट के दौरान पॉइंट ऑफ सेल (PoS) मशीन में कार्ड डालने की बजाए सिर्फ टच कर दिया और आपका पेमेंट हो जाता है। इसमें पासवर्ड भी डालने की जरूरत नहीं पड़ी। कई बार ऐसा होता है कि हम अपना पासवर्ड भूल जाते हैं तो ऐसी स्थिति में हमारे लिए यह सुविधा कारगर साबित होती है।

Post a Comment

0 Comments